कानपुर में मस्जिद की दीवार को तोड़कर भगवा रंगने की कोशिश !

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के बिठूर इलाके में पिछले 17 जनवरी को मस्जिद जो करीब 300 साल से ज्यादा पुरानी है जिसकी हालत बहुत जर्जर है पिछले दिनों वहां पर कुछ हिंदूवादी संगठन के लोग इकट्ठा होते हैं और जय श्री राम और दूसरे धार्मिक नारे लगाते हैं फिर वहाँ भीड़ जमा हो जाती है जो मस्जिद की मीनार को तोड़ देती है और वहां पर स्थित मजार की बाहरी दीवारों को तोड़ देती है और दीवार को भगवा रंग से रंग देते हैं।

जब यह खबर बाहरी लोगों तक पहुंचती है तो वहां भीड़ इकट्ठा होने लगती है मौके पर शहर काजी कारी अब्दुल कुद्दूस वहां पर अपने समर्थकों के साथ पहुंच जाते हैं उनके वहां पहुंचने पर पुलिस भी पहुंच जाती है और माहौल को शांत कराने की कोशिश करते हैं पुलिस 40 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करती है लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

इस घटना के बारे में जब SHO थाना बिठूर कुशलेन्द्र प्रताप सिंह से फोन पर Carlian India की बात हुई, तो उन्होंने इस घटना से इनकार कर दिया उन्होंने बताया कि सिर्फ मजार की बाहरी दीवार को नुकसान पहुंचाया गया।

लेकिन News18 के अनुसार मस्जिद को भी भगवा रंग से रंगा गया था।

अगले दिन जब पुलिस अपनी निगरानी में मस्जिद से हुई तोड़फोड़ की मरम्मत करवा रही थी,
जब यह खबर वहां के मौजूद बीजेपी विधायक अभिजीत सिंह सांगा को मिली वह अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ मौके पर पहुंच गए और हो रहे मरम्मत के काम को जबरदस्ती रुकवा देते हैं,
और वहां के SHO को खरी खोटी सुनाते हैं।

बीजेपी विधायक अभिजीत सिंह धमकी देते देते हुए कहा माहौल चाहते हो बचाना या यह भी टूट जाए।और उन्होंने बाहरी लोगों पर आरोप लगाते हुए कहा की यहां के मुसलमानों को कोई दिक्कत नहीं है उनसे सुबह कुछ मुसलमान लोग मिलने आए थे उनको कोई दिक्कत नहीं है बाहरी लोग अर्थात चमनगंज के लोग यहां का माहौल खराब कराना चाहते हैं।

एसएचओ श्री सिंह के अनुसार मरम्मत का काम उच्च अधिकारियों के आदेश पर हो रहा था।

बीजेपी विधायक अभिजीत सिंह सांगा के अनुसार,
धर्मनगरी बिठूर में चंद लोगों द्वारा मन्दिर की जगह पर मस्जिद निर्माण करने का प्रयास किया जा रहा था, स्थानीय पुलिस खुद यह निर्माण करा रही थी,
जानकारी प्राप्त होने पर तत्काल अवैध निर्माण को मेरे साथ स्थानीय लोगों द्वारा रुकवाया गया|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *